sad shayari

799 + Best Dard Bhare Status | दर्द भरे स्टेटस

जितनी उम्मीद मैं लोगो से लगाए रखता हूँ !!
उतना ही खुद को मैं दर्द में देखता हूँ !!

जब से तूने मुझे छोड़ा हैं तब से मैंने !!
खुद को अकेला और बेसहारा ही पाया है !!

whatsapp dard bhari shayari,
dard bhari shayari status,
dard shayari status,
gam bhare gana,
dard bhari quotes,
dard bhare dialogue,
gane gam bhare,
dukh bhari duniya mein koi nahi hai tera,
musafir jaane wale,
dard bhare,
ek baat bolu in english,
bahut dard hai,
mohabbat bhare gane,
gam bhare gana video mein,
gane dard bhare,
pyar bhare gane,

रिश्ता चाहे छोटा हो या बड़ा !!
उसे टूटने में बस एक पल ही लगता है !!

मत तोल मोहब्बत मेरी अपनी दिल्लगी से !!
चाहत देखकर मेरी अक्सर तराजू टूट जाते हैं !!

वक्त के साथ साथ सब कुछ ठीक हो जाता है !!
पर यादें मरते दम तक साथ नहीं छोड़ती है !!

हमारे रिश्ते की हकीकत बस यही है !!
तुझे मुहब्बत थी पर मुझे आज भी है !!

मोहब्बत के भरोसे मत रहना यारो !!
बुरे वक्त में साथ छोड़ देती !!

जब तुम पे बीतेगी तो जान जाओगे खुद !!
कितना दर्द होता है नजर अंदाज करने से !!

मेरी इच्छा उसको सिर्फ पाना नहीं !!
भगवान से दुआ है कि उसे कभी रुलाना नही !!

मुस्कुराना भी हम भूल सा गए है !!
जब से वो हमारी जिंदगी से जुदा हुई हैं !!

15 August Shayari In Hindi | स्वतंत्रता दिवस पर शायरी

Dard Bhare Status

उस इंसान से हमेशा दूर ही रहो जो !!
आपके होते हुए भी किसी और की जरूरत हो !!

उन्हें अपना बनाने की कोशिश !!
मुझे अपनों से दूर कर गयी !!

वक्त के साथ कई दर्द मेरी जान अब पुराने निकले !!
कुछ गम ऐसे थे मेरी जान जो तेरे बहाने निकले !!

मेरी हर शायरी दर्द को बंया करेगी !!
ए गम तुम्हारी आँखें न भर जाएँ पढ़ते-पढ़ते !!

मेरी जिन्दगी में खुशियों का तो पता नहीं !!
पर दर्द हमेशा टाइम पर मिलता है !!

मौत एक सच्चाई है उसमे कोई ऐब नहीं !!
क्या लेके जाओगे यारों कफन में कोई जेब नही !!

हम तो आज भी जी रहे हैं बस फर्क इतना है !!
पहले तेरे साथ जीते थे आज दर्द के साथ !!

दिल का दर्द दिखता नहीं पर !!
अंदर ही अंदर तड़पता रहता है !!

मुफ़्त में नहीं सीखा उदाशी में मुस्कराने का हुनर !!
बदले में जिंदगी की हर ख़ुशी तबाह कर दी !!

ना साथ है किसी का ना सहारा है कोई !!
ना हम किसीके हैं और ना हमारा है कोई !!

Dard Bhare

खेलना अच्छा नहीं किसी के नाज़ुक दिल से !!
दर्द जानोगे तब जब कोई खेलेगा आपके दिल से !!

बहुत दर्द हैं ऐ जान ए अदा तेरी मोहब्बत में !!
कैसे कह दूँ कि तुझे वफा निभानी नहीं आती !!

काश मैं उसे पाने की जिद ना करता तो !!
आज मैं यूं दर्द में तड़पता ना रहता !!

जब कोई किसी का साथ छोड़ता है !!
तो उसकी आंखें ही नहीं उसका दिल भी रोता है !!

तुम लाख दुआ कर लो मुझसे दूर जाने की !!
मेरी दुआ भी उसी खुदा से है तुझे मेरे करीब लाने की !!

सोचा था की तुम औरो की तरह बेवफा नहीं निकलोगे !!
पर तुमने तो बेवफाई की हद ही पार कर दी !!

किसी का दिल तोड़ना बहुत आसान होता हैं साहब पर !!
उसी दिल को फिर से जोड़ना बहुत मुश्किल हो जाता है !!

जितनी उम्मीद मैं लोगो से लगाए रखता हूँ !!
उतना ही खुद को मैं दर्द में देखता हूँ !!

वो खामोश होता था तो हम तड़प जाते थे !!
आज हम खामोश हुए तो उस ने हाल तक ना पूछा !!

इतना दर्द तो मुझे गहरी सी गहरी चोट लगने पर भी नहीं हुआ !!
जितना दर्द तेरी ख़ामोशी ने मुझे दिया है !!

Gam bhare gana

मतलब का प्यार था तो पहले ही बता देते !!
कम से कम खुद को सँभालने का मौका तो मिल जाता हमें !!

तेरी याद आज भी मुझे उतनी ही आती हैं !!
तेरी बेवफाई से मुझे आज भी नींद ठीक से नहीं आती हैं !!

उसका मिलना तक़दीर में था ही नहीं !!
वरना मैंने क्या कुछ नहीं किया उसे पाने के लिए !!

जब से तूने मुझे छोड़ा हैं तब से मैंने !!
खुद को अकेला और बेसहारा ही पाया है !!

माना मुझसे गलती हुई पर !!
क्या मुझे हमेशा के लिए अकेला छोड़ना तूने ठीक समझा !!

ये जिंदगी तो हमें वैसे ही रोज इतना दर्द देती हैं !!
अब थोड़ा तुम भी दे दोगे तो हमें कोई फर्क नहीं पड़ेगा !!

यह नन्ही सी आँखों की पलके भी मुझसे रोज कहती हैं !!
कि अब मुझसे आसुओं में और नहीं भीगा जाता !!

हमने वक़्त से बहुत वफ़ा की लेकिन वक़्त हमसे बेवफाई कर गया !!
कुछ तो हमारे नसीब बुरे थे कुछ लोगों का हमसे जी भर गया !!

हमारे रिश्ते की हकीकत बस यही है !!
तुझे मुहब्बत थी पर मुझे आज भी है !!

मोहब्बत और नौकरी में कोई फर्क नहीं !!
इंसान करता रहेगा रोता रहेगा पर छोड़ेगा नहीं !!

Gam bhare gana mein

लिखते हैं सदा उन्हीं के लिए !!
जिन्होंने हमें कभी पढ़ा ही नहीं !!

कुछ रिश्ते ऐसे होते हैं !!
जिनको जोड़ते जोड़ते इन्सान खुद टूट जाता है !!

खुद से भी ज्यादा मैंने उसको चाहा था शायद यही मेरी भूल थी !!
जिस वजह से मैंने उससे धोखा खाया था !!

मेरी इच्छा उसको सिर्फ पाना नहीं !!
भगवान से दुआ है कि उसे कभी रुलाना नही !!

हम जिंदगी में ज़रा मशरूफ क्या हुए !!
लोगो न तो दिलो से निकाल दिया !!

खत्म कर आया हूँ मैं उन लोगो से अपने रिश्ते !!
जिन्हे मैं सिर्फ काम के वक्त ही याद आया करता था !!

वो मेरी तन्हाइयों का हिसाब क्या देगी !!
जो खुद ही सवाल है वो जवाब क्या देगी !!

मुस्कुराना भी हम भूल सा गए है !!
जब से वो हमारी जिंदगी से जुदा हुई हैं !!

जब अपने ही दगाबाज निकलते हैं !!
तो दर्द बेहिसाब होता हैं !!

बिना उसके दिल का हाल कैसे बतलाऊ !!
जैसे खाली बस्ता हो किसी नालायक बच्चे का !!

Badmashi Shayari in Hindi | बदमाशी शायरी

Pyar bhare gane

जिंदगी भर तुम्हारा साथ निभाने की कसम खायी थी मैंने !!
अब सोचता हूँ की क्या वो कसम झूठी थी या फिर तुम !!

किसी ने धूल क्या झोंकी आखों में !!
पहले से बेहतर दिखने लगा है !!

उन्हें अपना बनाने की कोशिश !!
मुझे अपनों से दूर कर गयी !!

जिंदगी रही तो हर दिन तुम्हे याद करते रहेंगे !!
भूल गया तो समझ लेना खुदा ने हमें याद कर लिया !!

उसके पीछे रोने का क्या फायदा !!
जिसने आपकी सारी खुशियाँ ही छीन ली हो !!

वक्त अच्छा हो तो आप की गलती भी मजाक लगती हैं !!
और वक्त खराब हो तो मजाक भी गलती बन जाता है !!

एक कोशिश भी नहीं की उसने मुझे रोकने की !!
शायद उसे मेरे चले जाने का ही इंतज़ार था !!

चलते रहेंगे क़ाफ़िले मेरे बग़ैर भी यहाँ !!
एक तारा टूट जाने से फ़लक़ सूना नहीं होता !!

जब कोई इंसान नज़र अंदाज़ करना शुरू कर दे तो !!
समझ लेना उसकी ज़रूरतें पूरी हो गई है !!

वो कहते हैं बता तेरा दर्द कैसे समझूँ ऐ सनम !!
मैंने कहा इश्क़ कर बहुत कर और करके हार जा !!

Dukh bhari duniya mein koi nahi hai tera

एक बात सुनलो तुम्हारा तोह पता नहीं लेकिन !!
दिल तरसता है तुमसे बात करने के लिए !!

काश कोई होता हमारा भी जो गले से लगा कर !!
पूछता क्यों इतने उदास रहते हो आजकल !!

बहुत कुछ है कहने को पर न जाने क्यों !!
अब कुछ न कहु वही बेहतर लगता है !!

सोचा था की तुम औरो की तरह बेवफानहीं निकलोगे !!
पर तुमने तो बेवफाई की हद ही पार कर दी !!

अगर पसंद नहीं मेरा साथ तोह दूर हो जाओ !!
यूँ हर रोज़ बिजी होने का बहाना मत बनाओ !!

दर्द में भी ये लब मुस्कुरा जाते हैं !!
बीते लम्हे हमें जब भी याद आते है !!

हर एक सच्चा प्यार एक तरफा नहीं होता !!
पर एक तरफ़ा प्यार हमेशा सच्चा होता है !!

एक बात सिखाई है ताजुर्वे ने हमें !!
एक नया दर्द ही पुराने दर्द की दवा है !!

अब कोई दर्द दर्द नहीं लगता !!
तेरे दिये हुए दर्द तो कमाल कर गए !!

Bahut dard hai

दर्द के एहसास दिल से मर गए !!
जख्म अपने इतना असर कर गए !!

चाहत है यह दिल्लगी या यूंही मन भरमाया है !!
याद करोगे तुम भी कभी किसी से दिल लगाया है !!

जिसके दिल पर भी क्या खूब गूजरी होगी !!
जिसने इस दर्द का नाम मोहब्बत रखा होगा !!

जख्म ही देना तो पूरा जिस्म तेरे हवाले था !!
बे रहम तूने वार किया वो भी दिल ही वार किया !!

सारे दर्द मुझे ही सौप दिए !!
ऊपर वाले को इतना भरोसा था मुझ पे !!

आजकल नहीं चलता प्यार जन्म जन्मों का !!
लोग अपना मतलब निकाल कर मुँह फेर लेते हैं !!

खुद ही रोए और खुद ही चुप हो गए !!
ये सोचकर की कोई अपना होता तो रोने ना देता !!

दुआ करना की दम भी उसी दिन निकले !!
जिस दिन तेरे दिल से हम निकले !!

अब किसी से न करेंगे प्यार इस तरह !!
अब न झेलना पड़ेगा जख्म इस तरह !!

नंबर तो आज भी सेव है फोन में बस बात नही होती !!
तुझे याद न करूं ऐसी कोई रात नही होती !!

Dard bhare

एक बात बोलूं कुछ दर्द ऐसे मिले हैं जिन्दगी में !!
जिन्होंने जान भी ले ली और जिन्दा भी छोड़ दिया !!

इजाजत तो दी थी मैंने हर शरारत की तुमे !!
पर तुमने जो तोडा वो दिल था मेरा !!

एक दिन हमारी आँखों ने भी थक कर हमसे कह दिया !!
ख्वाब वो देखा करो जो पुरे हो रोज रोज हमसे रोया नहीं जाता !!

ये दुनियाँ भी बड़ी अजीब है !!
जीने को कहती है पर जीने नहीं देती !!

सुना था कभी किसी से ये मोहब्बत की दुनिया है !!
हमने भी दिल लगा के देखा तो ये जाना मतलब की दुनिया है !!

हम भी फूलों की तरह अक्सर तनह रहते है !!
कभी टूट जाते है तो कभी कोई तोड़ देता है !!

अँधेरा मिटा कर शहर छोड़ जाऊँगा !!
एक रोज फिर तेरा शहर छोड़ जाऊंगा !!

मरता नहीं कोई किसी के बगैर ये हकीकत है जिंदगी !!
लेकिन सिर्फ सांस लेने को जीना तो नहीं कहते !!

उसका मिलना तकदीर में था ही नहीं !!
वरना मैंने क्या कुछ नहीं किया उसे पाने के लिए !!

हज़ारों अश्क थे मेरी आँखों की हिरासत में !!
आपकी याद आयी और इनको जमानत मिल गयी !!

2 line shayari in hindi | दो लाइन शायरी

Gane dard bhare

बिछड़ कर तुझसे कैसे ऐ मेरे हमदम बिख़र जाऊँ !!
तेरी पाज़ेब से टूटा हुआ घुंघरू नहीं हूँ मैं !!

जो मुहब्बत इज्ज़त देकर सजाई जाती है !!
यक़ीन मानिए वो हमेशा निभाई जाती है !!

क्या प्यार में सोचा था क्या प्यार में पाया !!
तुझे पाने की चाहत में खुद को मिटाया !!

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए !!
तू आज भी बेखबर है कल की तरह !!

खुद भी रोता है मुझे भी रुला के जाता है !!
ये बारिश का मौसम उसकी याद दिला के जाता हैं !!

वैसे तो कई शिक़वे हैं तुम्हारे हमसे पर सुनो !!
शिक़ायत करती हो तो बहुत प्यारी लगती है !!

अक्सर खुद में ही खुद को समेटे रखती है !!
वो साधारण सा लड़की सादगी में भी खूब जचती है !!

बस इतना सा हक तुम पर चाहिए जान ए जाँ !!
तेरे ख़्वाबों में आना जाना फ़क़त मेरा रहे !!

भुला दूं कुछ गलतियां उनकी कुछ खुद भी सुधर जाऊँ !!
आ जाए थोड़ा अदब मुझ में मैं भी पटना हो जाऊं !!

चूड़ियों जैसी होती हैं लड़कियाँ !!
खनकते खनकते कब टूट जायें पता ही नहीं चलता !!

Mohabbat bhare gane

चांद तारे तो अपने बजट में नहीं आते !!
कभी फुर्सत निकालो तो तुम्हें पटना घुमाते हैं !!

पीछे छूटे हुए साथी मुझको याद आते हैं !!
वरना इस दौड़ में मैं सबसे आगे हो सकता हूं !!

किसी के चेहरे की खुशी को अपनी खुशी समझना !!
शायद इसी का नाम मोहब्बत है !!

ये चाहतों के सिलसिले और बेखुदी ज़रा ज़रा !!
वो मुख़्तसर सी ख्वाहिशें और आशिक़ी ज़रा ज़रा !!

बढ़ रहा है दर्द गम उस को भूला देने के बाद !!
याद उसकी ओर आई खत जला देने के बाद !!

एहसास बदल जाता है और कुछ नही !!
वरना मोहब्बत और नफरत एक ही दिल से होती है !!

जितने राज़दार कम बनाओगे !!
उतने ही धोखे कम खाओगे !!

तेरी वफ़ा के तकाजे बदल गये वरना !!
मुझे तो आज भी तुझसे अजीज कोई नहीं !!

उसकी बेवफाई पे भी फ़िदा होती है जान अपनी !!
अगर उसमे वफ़ा होती तो क्या होता खुदा जाने !!

बेवफाओं की इस दुनिया में संभल कर चलना !!
यहाँ मोहब्बत से भी बरबाद कर देतें हैं लोग !!

Ek baat bolu in english

तुझे खोने का गम अब इतना ज्यादा नहीं !!
तू ख्वाहिश थी मेरी जरूरत नहीं ज़िंदगी !!

मेरी आँखों में बहने वाला ये आवारा सा आसूँ
पूछ रहा है पलकों से तेरी बेवफाई की वजह !!

किसी को समझ पाओ तो एक पल ही काफी है !!
और ना समझो तो पूरी जिंदगी भी कम पड़ जाती है !!

क्योंकि हमारी कमजोरियाँ ही !!
दुश्मनों को ताकतवर बनाती हैं !!

अना कहती है इल्तेजा क्या करनी !!
वो मोहब्बत ही क्या जो मिन्नतों से मिले !!

मुकम्मल ना सही अधूरा ही रहने दो !!
ये इश्क़ है कोई मक़सद तो नहीं है !!

बिछड़ जाऊं तो फिर रिश्ता तेरी यादों से जोडूगा !!
मुझे जिद है जीने का कोई मौका नहीं छोडूंगा !!

अजीब सी पहेलियाँ हैं मेरे हाथों की लकीरों में !!
लिखा तो है सफ़र मगर मंज़िल का निशान नहीं !!

बना दो वजीर मुझे इश्क की दुनिया का दोस्तो !!
वादा है हर बेवफा को सजाए मौत दूंगा !!

तुम ने किया न याद कभी भूल कर हमें !!
हम ने तुम्हारी याद में सब कुछ भुला दिया !!

Musafir jaane wale

जह नफरतों की तलाशी जाती है !!
मोहब्बत तो बिन वजह ही हो जाती है !!

दोस्तो इन आखों में भी थी कभी किसी हीर की तम्मना !!
आज ये जालिम हुआ शक्स भी कभी रांझा हुआ करता था !!

सोचकर बाज़ार गया था अपने कुछ अश्क़ बेचने !!
हर खरीददार बोला अपनों के दिये तोहफे बिका नहीं करते !!

है इश्क़ की मंज़िल में हाल कि जैसे !!
लुट जाए कहीं राह में सामान किसी का !!

कद्र हमारी भी करेंगे एक दिन ज़माने वाले देख लेना !!
बस जरा ये भलाई की बुरी आदत छूट जाने दो !!

बड़ी शिद्द्त से राजी हुए है वो साथ चलने को !!
खुदा करे के मुझे सारी जिंदगी मंजिल न मिले !!

नजर का तीर हटा लो यूं जिगर के पार ना कर !!
मै तो बेकरार बहुत हूं अब और बेकार ना कर !!

दिल को हमसे चुराया आपने दूर होते हुए अपना बनाया आप ने !!
कभी भूल नहीं पाएंगे आप को क्योंकि याद रखना सीखाया आप ने !!

कतरा-कतरा इश्क़ जोड़ा ऐवान मोहब्बत का बनाने को !!
उस बेवफा ने एक पल न लिया उसे रेज़ा-रेज़ा बिखराने को !!

तुम्हारा साथ तसल्ली से चाहिए मुझको !!
थकान ज़मानों की लम्हों में कब उतरती है !!

15 August Status in Hindi 2023 | 15 अगस्त की शायरी

Dard shayari status

वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल !!
उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी !!

न जाने कब ये किस्से आम हो गए !!
हम उन्हे देखते रहे और बदनाम हो गए !!

हम भी उतर सकते है दिल में किसी के !!
बस पल भर के लिए नजर तो मिलाये कोई !!

वह मेरा सब कुछ है पर मुक़द्दर नहीं !!
काश वो मेरा कुछ न होता पर मुक़द्दर होता !!

दिल को बुझाने का बहाना कोई दरकार तो था !!
दुःख तो ये है तेरे दामन ने हवायें दी हैं !!

वो क्यों नही समझते अंजुम की दिल की दिल्लगी !!
वो बे-वजह मेरी बातों को हवा में उड़ाते क्यों हैं !!

अगर हमारे रोकने से वो रूक जाते
तो हम उनके सामने झुक जाते !!

घर जाते ही अपनी नज़र उतार लेना !!
कुछ लौंडों ने तुम्हें इश्क़ की नज़रों से देखा है !!

मेरी खातिर हरगिज़ न जागना !!
नींद आये तो बता के सो जाना !!

तेरे खतों को बनाकर अपना वजूद
तुझ पर हाथ रखा और मैं चल पड़ा !!

Dard bhare dialogue

वो फिज़ाओं में ज़हर घोलता हैं !!
घर के राज़ सारे बाहर खोलता हैं !!

करता हैं दावा ज़िंदगी बदलने का !!
जो सिक्कों में मेरा ज़मीर तोलता हैं !!

रातों को हँसाती हैं हंसतों को रुलाती !!
ज़िंदगी तेरे फलसफे हम समझते नहीं !!

नींद का साथ हो सपनों की बारात हो !!
चांद सितारे भी साथ हो और कुछ रहे ना रहे !!
पर हमारी यादें आपके साथ हो !!

उसे भुलाने की कितनी भी कोशिश कर
लूँ मैं लेकिन भुला नहीं पाता !!
और उसके बिना मैं खुद को अब खुश भी नहीं रख पाता !!

बड़ी अजीब होती हैं ये यादें !!
कभी हंसा देती हैं !!
कभी रुला देती हैं !!

इतना दर्द तो मुझे गहरी सी गहरी !!
चोट लगने पर भी नहीं हुआ !!
जितना दर्द तेरी खामोशी ने मुझे दिया है !!

आज जब हमे मौत लेने आयी !!
तो इतना कह कर चली गयी !!
कि मैं जिंदगी उनकी लेती हूँ जो जिन्दा हो

अब उसे ना सोचूं तो जिस्म टूटने लगता है !!
एक वक़्त गुजरा है !!
उसके नाम का नशा करते करते है !!

मत खोना उन लोगों को !!
जो तुम्हारे बोलने से पहले ही !!
तुम्हारे उदास होने की वजह जान लेते है !!

Hindi Bf Shayari Hindi Mai | हिंदी बीएफ शायरी हिन्दी में

Whatsapp dard bhari shayari

पता नहीं क्या बात है मोहब्बत में !!
जो हस्ता खेलता इंसान भी !!
मौत की चाहत करने लगता है !!

बहुत जुदा है औरों से मेरे दर्द की कहानी !!
जख्म का कोई निशां नहीं और !!
दर्द की कोई इंतहा नहीं !!

जो शिकायत नहीं करते उनका दर्द कोई नहीं समझता !!
लोग कहते हैं हर दर्द की एक हद होती है !!
कभी मिलना हमसे हम वो सिमा अक्सर पार करके जाते हैं !!

हमारी कदर उन्हें तब ही होगी !!
जब मतलब के रिश्तो और !!
रिश्तो के मतलब में अंतर समझ आएगा !!

बहुत याद रहेगा यह दौर हमको !!
क्या खूब तरसे थे एक शख्स के लिए !!
एक गलतफहमी हो गई थी मुझे !!
कि सब अपने होते हैं !!

ना मुस्कुराने को जी चाहता है !!
ना आंसू बहाने को जी चाहता है !!
लिखूं तो क्या लिखूं तेरी याद में !!
बस तेरे पास लौट आने को जी चाहता है !!

नहीं है हमको किसी से गिला इस बेवफा
ज़माने में किसी ने दोस्ती तोड़ी !!
किसी ने दिल तोड़ा किसी ने वादे तोड़े
और किसी ने तनहा छोड़ा !!

जो मेरी रूह में न समाती तो भूल जाता तुम्हें !!
जो तुम इतना करीब न आतीं तो भूल जाता तुम्हें !!
कहते हुए अगर ताल्लुक नहीं मेरा तुमसे कोई !!
जो दर्द भरी आँखों में आँसू न आते तो भूल जाता तुम्हें !!

दर्द दो तरह के होते हैं !!
एक दर्द आपको दर्द देता है !!
और दूसरा दर्द !!
आपको बदल देता है !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *